>2 Million Pageviews!

Saturday

ऐ मालिक तेरे बन्दे हम - Ae Malik Tere Bande Hum (Lata Mangeshkar)

Movie/Album: दो आँखें बारह हाथ (1957)
Music By: वसंत देसाई
Lyrics By: भरत व्यास
Performed By: लता मंगेशकर

ऐ मालिक तेरे बन्दे हम
ऐसे हों हमारे करम
नेकी पर चलें और बदी से टलें
ताकि हंसते हुए निकले दम

ये अंधेरा घना छा रहा
तेरा इंसान घबरा रहा
हो रहा बेखबर, कुछ न आता नज़र
सुख का सूरज छुपा जा रहा
है तेरी रोशनी में जो दम
तो अमावस को कर दे पूनम
नेकी पर...

जब ज़ुल्मों का हो सामना
तब तू ही हमें थामना
वो बुराई करें, हम भलाई भरें
नहीं बदले की हो कामना
बढ़ उठे प्यार का हर कदम
और मिटे बैर का ये भरम
नेकी पर...

बड़ा कमज़ोर है आदमी
अभी लाखों हैं इसमें कमी
पर तू जो खड़ा, है दयालू बड़ा
तेरी किरपा से धरती थमी
दिया तूने हमें जब जनम
तू ही झेलेगा हम सबके ग़म
नेकी पर...

5 comments:

Ridhdhi Dharmesh said...

Thanks for posting lyrics... awesome song...

surjeet singh said...

Nice song..i hear that song when i m sad

Shubham Kansal said...

Thanks I was remembering this song

Nidhi Ranjan said...

nice one.......... It just helped me in making my class recite this to the end, otherwise they didn't know the full song... And yes, this is really nice....

Nidhi Nair said...

Very good and these lyrics helped me to sing this song in my class.