आजा सनम मधुर चांदनी - Aaja Sanam Madhur Chandni (Lata Mangeshkar, Manna Dey)

Movie/Album: चोरी चोरी (1956)
Music By: शंकर जयकिशन
Lyrics By: हसरत जैपुरी
Performed By: लता मंगेशकर, मन्ना डे

आजा सनम मधुर चांदनी में हम-तुम मिले
तो वीराने में भी आ जाएगी बहार
झुमने लगेगा आसमान
कहता है दिल और मचलता है दिल
मोरे साजन ले चल मुझे तारों के पार
लगता नहीं है दिल यहाँ

भीगी-भीगी रात में, दिल का दामन थाम ले
खोयी खोयी ज़िन्दगी, हर दम तेरा नाम ले
चाँद की बहकी नज़र, कह रही है प्यार कर
ज़िन्दगी है एक सफ़र, कौन जाने कल किधर
आजा सनम मधुर चांदनी...

दिल ये चाहे आज तो, बादल बन उड़ जाऊं मैं
दुल्हन जैसा आसमां, धरती पर ले आऊँ मैं
चाँद का डोला सजे, धूम तारों में मचे
झूम के दुनिया कहे, प्यार में दो दिल मिल
आजा सनम मधुर चांदनी...

No comments :

Post a Comment

Like this Blog? Let us know!