झल्लाह वल्लाह - Jhallah Vallah (Shreya Ghoshal, Ishaqzaade)

Movie/Album: इशकज़ादे (2012)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: कौसर मुनीर
Performed By: श्रेया घोषाल

जिसका ना जिगर पे लगाए चोट
जिसके जाने से बम फटे!
एटम बम
हो जाए बिसफोट
आशिकों की है शामत, या आफत है
चाँद बेबी हैं आई, क़यामत है!

आशिकों मैं जिसका टाईटल टाईटैनिक
मुआ किनारा दिखा करके डुबा दे गया
झल्लाह, मेरा आशिक झल्लाह, वल्लाह
मेरा बलमा झल्लाह, वल्लाह
मेरा झल्लाह, वल्लाह वल्लाह!

हमने समझा था गोल्डन जुबली जिसे
समझा हमने था गोल्डन जुबली जिसे
वो तो मैटिनी दिखा कर के चुम्मा ले गया
झल्लाह, मेरा आशिक...

महफ़िल सज्जनों की, जन्टल-मनों की है
बेवड़ा कोई हो जाए तो आये मज़ा
नज़रों से पीने में क्या गुनाह है
बाखुदा कैसे पीते हो रूह-अफ्शाह
जिस लवर की खबर पे परूम है
दिल की ब्रेकिंग न्यूज़ उसको सुनाये कोई
कैसे नज़र से कमर का रट्टा लगे
इसको मेरी ज्योमेट्री भी दिखाए कोई
झल्लाह, मेरा आशिक...

क्या बताएं जिसको सनम मान कर शब भर मरे
वो कमीना सुबह होते फुर्र हो गया
जिसको मोहब्बत का टीचर कहते रहे
वो फटीचर इक लैसन में फेल हो गया
कसके जीन पैंट जेंटलमैन जो बने
रात भर पजामे से लड़ता रहा
हम जगाते रहे, दिल जलाते रहे
वो जमाई रज़ाई में लगता रहा
झल्लाह, मेरा आशिक...

2 comments :

  1. 'जिस लवर की खबर पे परूम है'
    What does परूम mean?

    ReplyDelete
  2. I got it!!
    I think it is - जिस लवर की ख़बर पेपरों में है

    ReplyDelete

Like this Blog? Let us know!