मुख़्तसर - Mukhtasar (Teri Meri Kahani, Wajid)

Movie/Album: तेरी मेरी कहानी (2012)
Music By: साजिद-वाजिद
Lyrics By: प्रसून जोशी
Performed By: वाजिद अली

मुख़्तसर मुलाक़ात है
अनकही कोई बात है
फिर रात की शैतानियाँ
या अलग, ये जज़्बात है
मुख़्तसर...

मौसम ये कहता है, भीगे अंधेरों में
डुबकी लगाते हैं ना
पर मुझको लगता है, मैं रोक लूं खुद को
एहसास है ये नया
क्या हुआ, मैं हूँ बेखबर
है नया सा, सुहाना असर
जीत है या मात है
मुख़्तसर मुलाकात है...

ये तो सुना था, के कुछ ऐसा होता है
पर मुझको भी हो गया
मेरी तो दुनिया बिलकुल अलग थी
अंदाज़ वो खो गया
देखना, डूबना हो गया
डूबना, तैरना हो गया
क्या असर मेरे साथ है
मुख़्तसर मुलाक़ात है...

No comments :

Post a Comment

Like this Blog? Let us know!