कल की दौलत, आज की खुशियाँ - Kal Ki Daulat, Aaj Ki Khushiyan (Md.Rafi, Asli Naqli)

Movie/Album: असली नकली (1962)
Music By: शंकर जयकिशन
Lyrics By: शैलेन्द्र
Performed By: मो.रफ़ी

कल की दौलत, आज की खुशियाँ
उनकी महफ़िल, अपनी गलियाँ
असली क्या है, नकली क्या है
पूछो दिल से मेरे

तोड़ के झूठे नाते रिश्ते, आया मैं दिलवालों में
सच कहता हूँ चोर थे ज़्यादा, दौलत के रखवालों में
कल की दौलत, आज की खुशियाँ...

उस दुनियाँ ने बात ना पूछी, इस दुनियाँ ने प्यार दिया
बैठा मन के राजमहल में, सपनों का संसार दिया
कल की दौलत, आज की खुशियाँ...

आसमान पर रहने वालों, धरती को तो पहचानो
फूल इसी मिट्टी में महके, तुम मानो या न मानो
कल की दौलत, आज की खुशियाँ...

No comments :

Post a Comment

Like this Blog? Let us know!