तूने मारी एंट्रियां - Tune Maari Entriyaan (Gunday)

Movie/Album: गुंडे (2014)
Music By: सोहेल सेन
Lyrics By: इरशाद कामिल
Performed By: विशाल ददलानी, नीति मोहन, केके, बप्पी लाहिड़ी

तूने मारी एंट्रियां रे
दिल में बजी घंटियाँ रे
दिल की सुन कमेंट्रियां रे
प्यार की गारंटीयाँ रे
अरे ताड़ा ताड़ी करना
ना अब नहीं सुधारना
फूटने लगा है, अरे चाहतों का झरना
दिल की ना मरम्मतें हों
ना कोई वारंटीयाँ रे

सीटी वीटी, आँखें वांखें, ना यूं मारो
फैंको ना चाहत के दाने
हाँ, मजनू-राँझे सारे झूठे हैं यहाँ पे
झूठे हैं दिल के फसाने
हो.. चाहे तो, ले ले तू
वफा की आज कसमें-वसमें
हो.. ना हूँ मैं, ना है दिल
ज़रा भी देख अपने बस में
पीछे मेरी आशिक़ों की
पूरी पूरी कंट्रीयाँ रे
मैंने मारी एंट्रियां रे...

हाँ मीठी मीठी बातें
करके आना चाहे
भीड़ से नज़दीक प्यारे
हाँ भोले पंछी तू ना समझे के मैं क्या हूँ
शोलों को समझे तू तारे
हो.. जो भी है, जैसी है
मेरी है जान मैंने माना
हो.. जो भी हो, जैसे हो
मैंने है यार तुझको पाना
सेंटी हो के बातें भी
तू कर रहा है सेंटियाँ रे
मैंने मारी एंट्रियां रे...

No comments :

Post a Comment

Like this Blog? Let us know!