दिल पागल दीवाना है - Dil Paagal Deewana Hai (Kumar Sanu, Barsaat)

Movie/Album: बरसात (1995)
Music By: नदीम श्रवण
Lyrics By: समीर
Performed By: कुमार सानू

दिल पागल दीवाना है ये प्यार करेगा
ये कब डरा है दुनिया से जो अब डरेगा
ये प्यार में धड़का है, ये प्यार से धड़केगा
ये कब डरा है...

दिल तख्त-ओ-ताज की परवाह नहीं करता
रस्म-ओ-रिवाज की परवाह नहीं करता
दौलत से खरीदोगे तो इंकार करेगा
ये कब डरा है...

फ़लक रोके, ज़मीं रोके, मगर हम रुक न पाएंगे
दीवारें तोड़ के सारी हम तुमसे मिलने आएंगे
मोहब्बत झुक नहीं सकती ज़माने के झुकाने से
मोहब्बत मिट नहीं सकती ज़माने के मिटाने से
कहता नहीं है दिल करेके दिखाएगा
तूफ़ां में चाहत की शमा जलाएगा
ये जुर्म-ए-वफ़ा दिल तो सौ बार करेगा
ये कब डरा है...

No comments :

Post a Comment

Like this Blog? Let us know!