कोई लड़की है - Koi Ladki Hai (Lata Mangeshkar, Udit Narayan, Dil To Pagal Hai)

Movie/Album: दिल तो पागल है (1997)
Music By: उत्तम सिंह
Lyrics By: आनंद बक्षी
Performed By: लता मंगेशकर, उदित नारायण

चाक धूम धूम, चाक धूम धूम
घोड़े जैसी चाल, हाथी जैसी दुम
ओ सावन राजा, कहाँ से आए तुम

कोई लड़की है जब वो हँसती है
चाक धूम धूम...
कोई लड़की है, जब वो हँसती है
बारिश होती है छनक छनक छुम छुम
कोई लड़का है जब वो गाता है
चाक धूम धूम...
अरे कोई लड़का है, जब वो गाता है
सावन आता है घुमड़ घुमड़ घूम घूम

बादल झुके झुके से हैं, रस्ते रुके रुके से हैं
क्या तेरी मर्ज़ी है मेघा, घर हमको जाने ना देगा
आगे है बरसात, पीछे है तूफां
मौसम बेईमां, कहाँ चले हम तुम
चाक धूम धूम...

अंबर झुका झुका सा है, सब कुछ रुका रुका सा है
छाया समा कितना प्यारा, सावन का समझो इशारा
ऐसे मौसम में तुम भी कुछ कहो
तुम भी कुछ करो खड़ी हो क्यों गुमसुम
चाक धूम धूम...

No comments :

Post a Comment

Like this Blog? Let us know!