ये बंधन तो प्यार का - Ye Bandhan To Pyar Ka (Udit, Kumar, Alka, Karan Arjun)

Movie/Album: करण अर्जुन (1995)
Music By: राजेश रोशन
Lyrics By: इन्दीवर
Performed By: उदित नारायण, कुमार सानू, अलका याग्निक

सूरज कब दूर गगन से, चंदा कब दूर किरण से
खुशबू कब दूर पवन से, कब दूर बहार चमन से
ये बंधन तो प्यार का बंधन है, जन्मों का संगम है

तुम्हीं मेरे जीवन हो, तुम्हें देख-देख जी लूंगी
मैं तो तुम्हारे खातिर दुनिया का ज़हर पी लूंगी
तेरे पावन चरणों में आकाश झुका देंगे हम
तेरी राह मे जो शोले हों, तो खुद को बिछा देंगे हम
ये बंधन तो प्यार का बंधन है...

ममता के मंदिर की है तू सबसे प्यारी मूरत
भगवान नज़र आता है जब देखें तेरी सूरत
जब-जब दुनिया में आएँ, तेरा ही आंचल पाए
जन्मों की दीवारो पर, हम प्यार अपना लिख जाए
ये बंधन तो प्यार का बंधन है...

हो इन्सान मारा करते हैं, विश्वास नहीं मरता है
नामुमकिन को भी मुमकिन, विश्वास किया करता है
सपने सच हो जाते हैं, हर दुआ काम आती है
विश्वास की डोर है ऐसी, अपनों को खीच लाती है
ये बंधन तो प्यार का बंधन है...

No comments :

Post a Comment

Like this Blog? Let us know!