एक गरम चाय की प्याली हो - Ek Garam Chai Ki Pyaali Ho (Anu Malik, Har Dil Jo Pyar Karega)

Movie/Album: हर दिल जो प्यार करेगा (2000)
Music By: अनु मलिक
Lyrics By: समीर
Performed By: अनु मलिक

एक गरम चाय की प्याली हो, कोई उसको पिलाने वाली हो
चाहे गोरी हो या काली हो, सीने से लगाने वाली हो
मिल जाये तो मिट जाये हर गम, तारारमपमपम

सुबह सुबह मैं निकलूँ घर से चूम के उसकी आँखें
हर लम्हां बस याद करूँ उसकी चाहत की बातें
उसके लिए हो जीना मरना, और भला क्या मुझको करना
मेरे लिए खुशहाली हो, उसके बिना सब खाली हो
चाहे गोरी हो या काली हो...

रात को जब मैं वापस आऊँ वो दरवाज़ा खोले
लेके मुझको बाँहों में लव यू डार्लिंग बोले
सज के मेरे सामने आये, सारे दिन की थकन मिटाए
उसकी अदा निराली हो, वो मेरी घरवाली हो
चाहे गोरी हो या काली हो...

No comments :

Post a Comment

Like this Blog? Let us know!