जादू है नशा है - Jaadu Hai Nasha Hai (Shreya Ghoshal, Shaan, Jism)

Movie/Album: जिस्म (2003)
Music By: एम.एम.क्रीम
Lyrics By: नीलेश मिश्रा
Performed By: श्रेया घोषाल, शान

Solo
जादू है नशा है, मदहोशियाँ
तुझको भूला के अब जाऊँ कहाँ
देखती हैं, जिस तरह से, तेरी नज़रें मुझे
मैं खुद को छुपाऊँ कहाँ

ये पल है अपना, तो इस पल को जी ले
शोलों की तरह, ज़रा जल के जी ले
पल झपकते, खो न जाना
छू के कर लूँ यकीं
न जाने पल ये पाये कहाँ
जादू है नशा है...

बाहों में तेरी, यूँ खो गए हैं
अरमां दबे से, जगने लगे हैं
जो मिले हो, आज हमको
दूर जाना नहीं, मिटा दो सारी ये दूरीयाँ
जादू है नशा है...


Duet
जादू है नशा है, मदहोशियाँ
तुझको भूला के अब जाऊँ कहाँ
शमा तुझको खींचती है
अपनी ओर आजा
परवाने मेरी बाहों में आ

कुछ भी न समझे, कुछ भी न माने
दिल कर रहा है कितने बहाने
तुमको देखे, तुमको चाहे
इस तरह से कभी
हमने किसी को चाहा कहाँ
जादू है नशा है...

लो थाम लो ये, लम्हों के धागे
हम चल पड़े हैं, सपनों से आगे
रास्ता ये, है कठिन पर
इस सफ़र में कभी
न होंगी कोई अब दूरियाँ
जादू है नशा है...

2 comments :

Like this Blog? Let us know!