देखता हूँ कोई लड़की हसीं - Dekhta Hoon Koi Ladki Haseen (Kishore Kumar, Sanam Teri Kasam)

Movie/Album: सनम तेरी कसम (1982)
Music By: आर.डी.बर्मन
Lyrics By: गुलशन बावरा
Performed By: किशोर कुमार

हे देखता हूँ कोई लड़की हसीं
सोचता हूँ कहीं वो ही तो नहीं
अरे पूछे बिना चली आती है जो
नींद खुले तो चली जाती है जो
ख़्वाबों की रानी, जाने-जां
कब से तेरी तलाश है

किस्सा इतना है, वो एक फितना है
लाखों में एक है
अरे सूरत क्या कहने, मुस्कानें पहने
सीरत से नेक है
ख़्वाबों की रानी...
देखता हूँ कोई लड़की...

यूँ तो लाखों से होती है बातें
पर बात वो न बने
अरे दिल उसको दूँगा, जो दिल से दिल की
बातें कहे सुने
ख़्वाबों की रानी...
देखता हूँ कोई लड़की...

1 comment :

Like this Blog? Let us know!