हँसते-हँसते कट जाए रस्ते - Hanste Hanste Kat Jaaye Raste (Nitin, Sadhna, Khoon Bhari Maang)

Movie/Album: खून भरी मांग (1988)
Music By: राजेश रोशन
Lyrics By: इन्दीवर
Performed By: नितिन मुकेश, साधना सरगम

हँसते-हँसते कट जाए रस्ते
ज़िन्दगी यूँ ही चलती रहे
खुशी मिले या गम
बदलेंगे ना हम
दुनिया चाहे बदलती रहे

होठों से बिजली चमके जब
जब तू मुस्काती है
सारी हसीनाओं से
हसीं तू हो जाती है
तेरी इन्हीं बातों से
जान में जान आती है
हँसते-हँसते कट जाए...

चमका मेरा चेहरा
सामने जब तू आया
तुझे लगा जो हसीं
वो है तेरा ही साया
तेरी इसी अदा ने
आशिक़ मुझे बनाया
हँसते-हँसते कट जाए...

हर पल हर दिन हरदम
तुझको देखना चाहूँ
रब कोई पूजे तो पूजे
मैं तुझे पूजना चाहूँ
ऐसे ही चाहा करे तू
और भला क्या चाहूँ
हँसते-हँसते कट जाए...

No comments :

Post a Comment

Like this Blog? Let us know!