हमने ख़ामोशी से तुम्हें - Humne Khamoshi Se Tumhein (Pankaj, Alka, Majhdhaar)

Movie/Album: मझदार (1996)
Music By: नदीम-श्रवण
Lyrics By: समीर
Performed By: पंकज उदास, अलका याग्निक

हमने खामोशी से तुम्हें, दिल में बसाया है
हो ना खबर अब किसी और को
तुम्हें अपना बनाया है
हमने ख़ामोशी से तुम्हें...

दिल के धड़कने से डर मुझको लगता है
दुनिया न ये जान जाए
चाहे जो कोई तो चेहरा छुपा ले
चाहत मगर छुप न पाए
अपनी मोहब्बत को मैंने तो दिल में
कब से छुपाया है
हमने ख़ामोशी से तुम्हें...

पलकों की चिलमन में, इस दिल की धड़कन में
तुमको छुपा के रखूँगा(गी)
ख़्वाबों के दामन में, यादों के दर्पन में
तुमको बसा के रखूँगा(गी)
मुड़ के जहाँ जब भी देखा सनम
बस तुमको ही पाया है
हमने ख़ामोशी से तुम्हें...

No comments :

Post a Comment

Like this Blog? Let us know!