मेरी ज़िन्दगी के हमसफ़र - Meri Zindagi Ke Humsafar (Geeta Dutt, Shrimati 420)

Movie/Album: श्रीमती 420 (1956)
Music By: ओ.पी.नय्यर
Lyrics By: जान निसार अख्तर
Performed By: गीता दत्त

मेरी ज़िन्दगी के हमसफ़र, फेंकना यहाँ भी इक नज़र
तेरा मेरा राज़ क्या, इस कदर भी नाज़ क्या
थोड़ा-थोड़ा प्यार कर ले, कल की कुछ नहीं खबर
मेरी ज़िन्दगी के हमसफ़र...

गम नहीं मुझे ये दिल गया, तुझसा दिलरुबा तो मिल गया
तू मेरा करार है, तुझपे सब निसार है
मीठी-मीठी ये आदायें, तीखी-तीखी ये नज़र
मेरी ज़िन्दगी के हमसफ़र...

जो कहा किसी ने सुन लिया, अब तो मैंने तुझको चुन लिया
आज तू करीब है, हर खुशी नसीब है
तू जो मेरे साथ है तो क्या मुझे किसी का डर
मेरी ज़िन्दगी के हमसफ़र...

मुझपे इक नज़र तो डाल दे, दिल की हसरतें निकाल दे
हँस के मेरा नाम ले, हाथ मेरा थाम ले
दिल खुशी से झूम जाए, कुछ तो ऐसी बात कर
मेरी ज़िन्दगी के हमसफ़र...

No comments :

Post a Comment

Like this Blog? Let us know!