पहले प्यार का पहला ग़म - Pehle Pyar Ka Pehla Gham (Kavita Krishnamurthy, Papa Kahte Hain)

Movie/Album: पापा कहते हैं (1996)
Music By: राजेश रोशन
Lyrics By: जावेद अख्तर
Performed By: कविता कृष्णामूर्ति

पहले प्यार का पहला ग़म
पहली बार है आँखें नम
पहला है तन्हाई का ये मौसम
आ भी जाओ वर्ना रो देंगे हम
पहले प्यार का पहला...

हमने थे देखे साथ जो मिल के
सपने रूठ गए
सारे खिलौने काँच के निकले
छन से टूट गए
अब हम हैं तन्हाई है
एक उदासी छाई है
धड़कन भी है जैसे मद्धम-मद्धम
आ भी जाओ...

तुम जो नहीं तो दुनिया हमको
अच्छी नहीं लगती
तुम जो नहीं तो बात कोई हो
सच्ची नहीं लगती
हमने दिल को समझाया
सौ बातों से बहलाया
लेकिन दिल का दर्द नहीं होता कम
आ भी जाओ...

No comments :

Post a Comment

Like this Blog? Let us know!