ये ज़मीं गा रही है - Ye Zameen Gaa Rahi Hai (Amit Kumar, Teri Kasam)

Movie/Album: तेरी कसम (1982)
Music By: राहुल देव बर्मन
Lyrics By: आनंद बक्षी
Performed By: अमित कुमार

ये ज़मीं गा रही है, आसमाँ गा रहा है
साथ मेरे ये सारा जहां गा रहा है
ये ज़मीं गा रही है...

शोख कलियों के घूँघट सरकने लगे हैं
मस्त फूलों के दिल भी धड़कने लगे हैं
ये बहारों का दिलकश समा गा रहा है
साथ मेरे ये सारा...

झूमकर पर्बतों पे घटा छा रही है
प्यार की उम्र शायद करीब आ रही है
मेरा दिल प्यार की ये दास्ताँ गा रहा है
साथ मेरे ये सारा...

भूल कर राह कोई हसीं आ न जाए
इस जगह कोई परदा नशीं आ न जाए
इस जगह आज एक नौजवाँ गा रहा है
साथ मेरे ये सारा...

No comments :

Post a Comment

Like this Blog? Let us know!