>2.8 Million Pageviews!

Saturday

सुन ले ज़रा - Sun Le Zara (Arijit Singh, Singham Returns)

Movie/Album: सिंघम रिटर्न्स (2014)
Music By: अंकित तिवारी
Lyrics By: संदीप नाथ, अभेन्द्र कुमार उपाध्याय
Performed By: अरिजीत सिंह

दर पे तेरे अाके, मैं खड़ा सिर झुका के 
कर दे करम, अपना धरम मैं निभाऊं
ओ रहनुमा
मेरी दुआ, है इल्तेजा
सुन ले ज़रा, सुन ले ज़रा
सुन ले ज़रा, सुन ले ज़रा
मेरी दुआ...

हर पल दिल में है शोले जलते हुए
खुदको बचाऊँ मैं कैसे पिघलते हुए
ठहरे हुए मेरे कदम
चल ना पाऊं ओ रहनुमा
मेरी दुआ, है इल्तेजा
सुन ले ज़रा...

कर लूं मैं पूरे ख़ुद से जो वादे मेरे
अब तू दिखा दे राहें मैं सदके तेरे
दिल में मेरे कितने भरम
क्या बताऊँ ओ रहनुमा
मेरी दुआ, है इल्तेजा
सुन ले ज़रा...

Friday

कुछ तो हुआ है - Kuch To Hua Hai (Ankit Tiwari, Tulsi Kumar, Singham Returns)

Movie/Album: सिंघम रिटर्न्स (2014)
Music By: अंकित तिवारी
Lyrics By: संदीप नाथ, अभेन्द्र कुमार उपाध्याय
Performed By: अंकित तिवारी, तुलसी कुमार

रातों को अपनी पलकों से
ख़्वाब सजाने दो
फिर ख़्वाबों को आँखों से
नींद चुराने दो
ख़ामोशियाँ रखती हैं
अपनी भी एक जुबां
ख़ामोशी को चुपके से
सब कह जाने दो

कुछ तो हुआ है (ये क्या हुआ)
जो ना पता है (ये जो हुआ)
कुछ तो हुआ है
समझो कुछ समझो ना

जो कदम कदम चलूँ
तुझे ही तय करूँ मैं
साँसें बुनकर तुझे ओढ़ लूं
तू ख्याल सा मिला है
जिसको गिन सकूँ मैं
आदतों में तुझे जोड़ लूं
तुझसे रौशन, रातें सारी
तुझपे ही ख़तम बातें सारी
ख़ामोशियाँ रखती हैं...

तुझे एक बार प्यार से
जो छू सकूँ मैं
वक़्त को फिर वहीँ रोक दूँ
फिर दिल मचल के गर
हदों को भूल जाए
धडकनों का सफ़र छोड़ दूँ
तूने दी है सारी खुशियाँ
तू है तो है मेरी दुनिया
ख़ामोशियाँ रखती हैं...

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...