>40 Lakh Pageviews!

Monday

दिल तोड़ के - Dil Tod Ke (K.K., Ishq Ke Parindey)

Movie/Album: इश्क के परिंदे (2015)
Music By: विजय वर्मा
Lyrics By: मंथन
Performed By: के.के.

दिल तोड़ के जाने वाले सुन
मुझे तुझसे मोहब्बत आज भी है
तुझे मेरी ज़रूरत नहीं तो क्या
मुझे तेरी ज़रूरत आज भी है
दिल तोड़ के...

जिस दिन से तु दूर हुआ है
टुकड़ों में जां टूट गई
ओ तु क्या रूठा साथी मुझसे
दुनिया मुझसे रूठ गई
आ देख ले मेरी आँखों से
नींदों को शिकायत आज भी है
दिल तोड़ के...

यादें करवट बदल रही हैं
दूर तलक मैं तन्हाँ हूँ
वक़्त भी जिससे रूठ गया है
मैं वो बेबस लम्हां हूँ
हाथों की लकीरों से मेरी
किस्मत को बगावत आज भी है
दिल तोड़ के...

Tuesday

मौसम मौसम लवली मौसम - Mausam Mausam Lovely Mausam (Sulakshana, Anwar, Thodi Si Bewafai)

Movie/Album: थोड़ी सी बेवफाई (1980)
Music By: खय्याम
Lyrics By: गुलज़ार
Performed By: सुलक्षणा पंडित, अनवर

मौसम मौसम लवली मौसम
कसक अंजानी है मद्धम मद्धम
चलो घुल जाएँ मौसम में हम
मौसम मौसम लवली मौसम...

हवा के झोंकों मे तेरी खुश्बू सी है
बेवजह लगता है कोई खुशखबरी है
मौसम मौसम लवली मौसम...

कली के होठों पे मुस्कुराहट सी है
कहो तो सुनती है, सुनो तो कहती है
मौसम मौसम लवली मौसम...

न जाने ऐसे में क्यों बदन जलते हैं
ज़मीं पे उड़ते हैं, हवा में चलते हैं
मौसम मौसम लवली मौसम...

बादशाह हो बादशाह - Baadshah O Badshah (Abhijeet, Baadshah)

Movie/Album: बादशाह (1999)
Music By: अनु मलिक
Lyrics By: समीर
Performed By: अभिजीत

आशिक़ हूँ मैं क़ातिल भी हूँ
सबके दिलों में शामिल भी हूँ
दिल को चुराना नींदें उड़ाना बस यही मेरा क़ुसूर
वादों से अपने मुकरता नहीं, मरने से मैं कभी डरता नहीं
बादशाह ओ बादशाह, बादशाह ऐ बादशाह
बादशाह ओ बादशाह, बादशाह

चारों तरफ़ हैं मेरे ही चर्चे, होंठों पे है बस मेरा नाम
रंगों भरी सुबह मेरी, मस्ती में डूबी है मेरी शाम
झूठी कहानी सच्ची लगे, आवारगी मुझे अच्छी लगे
नग़में सुनाना, सबको नचाना, बस यही मेरा क़ुसूर
वादों से अपने मुकरता नहीं, मरने से मैं कभी डरता नहीं
बादशाह ओ बादशाह...

 है ये मोहब्बत कमज़ोरी मेरी, चाहत की दुनिया पे मेरा राज
बस रब के आगे झुकता मेरा सर, झुकते मेरे सामने तख्त-ओ-ताज
अंदाज़ मेरा सबसे जुदा, मैं बादशाहों का बादशाह
सपने सजाना हँसना-हँसाना, बस यही मेरा क़ुसूर
वादों से अपने मुकरता नहीं, मरने से मैं कभी डरता नहीं
बादशाह ओ बादशाह...

Sunday

यहाँ के हम सिकंदर - Yahan Ke Hum Sikandar (Udit, Sadhna, Jo Jeeta Wohi Sikander)

Movie/Album: जो जीता वही सिकंदर (1992)
Music By: जतिन-ललित
Lyrics By: मजरूह सुल्तानपुरी
Performed By: उदित नारायण, साधना सरगम

वो सिकंदर ही दोस्तों कहलाता है
हारी बाज़ी को जीतना जिसे आता है
निकलेंगे मैदान में जिस दिन हम झूम के
धरती डोलेगी ये कदम चूम के
वो सिकंदर ही दोस्तों कहलाता है

जो सब करते हैं यारों, वो क्यों हम तुम करे
यूं ही कसरत करते करते काहे को हम मरे
घरवालों से टीचर से भला हम क्यों डरे
यहाँ के हम सिकंदर
चाहें तो रख ले सबको अपनी जेब के अन्दर
अरे हमसे बचके रहना मेरे यार
नहीं समझे है वो हमें, तो क्या जाता है
हारी बाजी को जीतना हमें आता है

ये गलियाँ अपनी, ये रस्ते अपने
कौन आएगा अपने आगे
राहों में हमसे टकराएगा जो
हट जाएगा वो घबरा के
यहाँ के हम सिकंदर...

ये भोली भाली मतवाली परियाँ
जो हैं अब दौलत पे कुर्बान
जब कीमत दिल की, ये समझेंगी तो
हमपे छिड़केंगी अपनी जान
यहाँ के हम सिकंदर
चाहे तो रख ले सबको अपनी जेब के अन्दर
अरे हमभी है शहज़ादे गुलफ़ाम...

Saturday

जवां हो यारो - Jawaan Ho Yaaron (Udit Narayan, Jo Jeeta Wohi Sikander)

Movie/Album: जो जीता वही सिकंदर (1992)
Music By: जतिन-ललित
Lyrics By: मजरूह सुल्तानपुरी
Performed By: उदित नारायण, विजयता

जवां हो यारों ये तुमको हुआ क्या
अजी हमको देखो ज़रा
ये माना अभी हैं खाली हाथ
न होंगे सदा यही दिन रात
कभी तो बनेगी अपनी बात
अरे यारों, मेरे प्यारों, मेरी मानों, हो दिलदारों
जवां हो यारों...

मेहनत से मिले जो उसपे गुज़ार
दूजे के माल को ठोकर से मार
आएगी इधर भी एक दिन बहार
होगा ये ज़माना हमपे निसार
ये माना अभी हैं खाली...

इसको छूना नहीं हे राम राम
ये तो है पाप की गठरी तमाम
कब ये रुत बदल जाए किसको खबर
लग जाए हमें भी सोने के पर
फिर ऐसे उड़ेंगे हम सब यार
गुलों से लदेगी मोटर कार
हसीना होगी गले का हार
अरे यारों मेरे प्यारों...

Friday

इश्क हुआ कैसे हुआ - Ishq Hua Kaise Hua (Udit, Vibha, Ishq)

Movie/Album: इश्क (1997)
Music By: अनु मलिक
Lyrics By: जावेद अख्तर
Performed By: उदित नारायण, विभा शर्मा

इश्क हुआ, कैसे हुआ
अच्छा हुआ, जैसे हुआ
ना मैं जानूं, ना तू जाने
क्यूं हो गए हम दीवाने
इश्क हुआ...

झुकी झुकी नज़रें है, रुकी रुकी सांसें है
धक धक करता है दिल
जागे जागे अरमां है, सोया सोया ये जहां है
चोरी चोरी आ के मुझे मिल
सुन सुन सुन सुन सुन, सुन ज़रा
गुन गुन गुन गुन गाती है हवा
फैली हवाओं में, अपनी खबर
प्यार किया है तो फिर क्या है डर
जोशीली बातें यूँ ना कर
प्यार है तो, जोश भी है
होना है क्या, होश भी है
ना मैं जानूं, न तू जाने...

धीरे धीरे, हौले हौले, हौले हौले, धीरे धीरे
दिल को मिली है मंज़िल
भीगी भीगी रातों में, प्यारी प्यारी बातों में
खोया खोया रहता है दिल
रुक रुक रुक रुक रुक, रुक हमसफ़र
झुक झुक झुक झुक झुकती है नज़र
एक पल हमें तुम बिन चैन कहाँ
दोनों दिलों की है एक दास्ताँ
फिर भी है क्यूँ ये दूरियां
देख मुझे, यूँ न सता
होना है क्या, किसको पता
ना मैं जानूं, न तू जाने...

Thursday

देखो देखो जानम हम - Dekho Dekho Jaanam Hum (Alka, Udit, Ishq)

Movie/Album: इश्क (1997)
Music By: अनु मलिक
Lyrics By: राहत इन्दोरी
Performed By: उदित नारायण, अलका याग्निक

देखो देखो जानम हम दिल अपना तेरे लिए लाये
सोचो सोचो दुनिया में क्यूँ आये, तेरे लिए आये
अब तू हमें चाहे, अब तू हमें भूले
हम तो बने रहेगे तेरे साए
देखो देखो जानम हम...

ये क्या हमें हुआ, ये क्या तुम्हें हुआ
साँसों के दरिया में कुलमुल सी होने लगी
नई है ये सज़ा, सज़ा में है मज़ा
चाहत को चाहत की शबनम भिगोने लगी
अब और क्या चाहे, अब और क्या देखे
देखा तुम्हें तो दिल से निकली हाय
देखो देखो जानम हम...

सुनो, ज़रा सुनो, चुनो, हमें चुनो
आँखों ने आँखों से शरमा के कुछ कह दिया
सुना, मैंने सुना, चुना, तुम्हें चुना
शीशे ने शीशे से टकरा के कुछ कह दिया
है पल मुरादों के, ये पल है यादों के
अब मेरी जान रहे या चली जाए
देखो देखो जानम हम...

Wednesday

मोह मोह के धागे - Moh Moh Ke Dhaage (Papon, Monali Thakur, Dum Laga Ke Haisha)

Movie/Album: दम लगा के हईशा (2015)
Music By: अनु मलिक
Lyrics By: वरुण ग्रोवर
Performed By: पैपॉन, मोनाली ठाकुर

ये मोह मोह के धागे तेरी उँगलियों से जा उलझे
कोई टोह टोह ना लागे, किस तरह गिरह ये सुलझे
है रोम रोम एक तारा, जो बादलों में से गुज़रे

तु होगा ज़रा पागल तूने मुझको है चुना
कैसे तूने अनकहा, तूने अनकहा सब सुना
तु दिन सा है, मैं रात
आना दोनों मिल जाए शामों की तरह
ये मोह मोह के धागे...

के ऐसा बेपरवाह मन पहले तो ना था
चिट्ठियों को जैसे मिल गया, जैसे इक नया सा पता
खाली राहें, हम आँख मूंदें जाएँ
पहुंचे कहीं तो बेवजह
ये मोह मोह के धागे...

के तेरी झूठी बातें मैं सारी मान लूँ
आँखों से तेरे सच सभी, सब कुछ अभी जान लूँ
तेज है धारा, बहते से हम आवारा
आ थम के साँसे ले यहाँ
ये मोह मोह के धागे...

Tuesday

निम्बुड़ा - Nimbooda (Kavita Krishnamurthy, Hum Dil De Chuke Sanam)

Movie/Album: हम दिल दे चुके सनम (1999)
Music By: इस्माईल दरबार
Lyrics By: महबूब
Performed By: कविता कृष्णामूर्ति, कार्सन सगाथिया

निम्बुड़ा, निम्बुड़ा, निम्बुड़ा
निम्बुड़ा, निम्बुड़ा, निम्बुड़ा
अरे काचा काचा, छोटा छोटा, निम्बुड़ा लाई दो...
जा खेत से हरियाला निम्बूड़ा लायी दो
निम्बूड़ा, निम्बूड़ा, निम्बूड़ा

दीवानों की बुरी नज़र से बचना हो तो सुन लो
अरे खट्टो खट्टी निम्बू तेज़ छुरी से सर पे काटो
फिर छोटा छोटा निम्बुड़ा क्या जादू करेगा देखो
कि बुरी नज़र वो, खट्टी होएगी, फिर चौरस्ते पे, वो उतर गिरेगी
ओ लाई दो...

इत्ता सा है, पर है तो रसीला, निम्बुड़ा
चखा रा था बड़ा है छबीला, निम्बूड़ा
इसकी खुशबू से भी ललचा जाता है ये मन
रखदे जुबां पर दो बस, अई अई...

लेकिन चाहत में सजना सजनी को
लगती है एक दूजे की नज़र
तब उनमें अक्सर होती है मीठी तकरार
निम्बुड़ा बोले है यही प्यार
हुर्र, तो लाई दो लाई दो...
मेरी सोणी सहेलियों जा के ज़रा लाई दो, छोटा निम्बूड़ा, लाई दो
निम्बुड़ा, निम्बुड़ा...

Monday

ढोली तारो ढोल बाजे - Dholi Taaro Dhol (Hum Dil De Chuke Sanam)

Movie/Album: हम दिल दे चुके सनम (1999)
Music By: इस्माईल दरबार
Lyrics By: महबूब
Performed By: कविता कृष्णामूर्ति, विनोद राठोड, कार्सन सगाथिया

हे खा ना ना ना ना खनखना....
झनननन झंझनाट झांझर बाजे रे आज, टनननन टनटनाट मंजीरा बाजे
खनननन खनखनाक गोरी के कंगना आज, छनननन छ्ननाक पायल संग बाजे
सर पर चुनर ओढ़े निकलेगी आज राधे, लहरा, लहरा के गोपियों संग
कान्हां भी पीछे पीछे, टाँग कोई खींचे खींचे, मुरली से बरसाएगा सुर तरंग
धरती और वो गगन, झूमेंगे संग संग, सब पे चढ़ेगा आज प्रेम रंग
रंगीं गुलाल होगा, सोचो क्या हाल होगा, नाचेंगे प्रेम रोगी दम दमा दम दम
धम धम धातीलाल धातीलाल धिरकिट धिरकिट धिलाल
बाजे मृदंग धनाधन, धन धनाधन बाजे
छम छम छम छम छ्माक, झांझर झमझमाक
घुँघरू घम घम घमाक, चमक चम चमाके
हे बाजे रे बाजे रे बाजे रे बाजे रे, ढोल बाजे

हे बाजे रे बाजे रे बाजे रे
ढोली तारो ढोल बाजे, ढोल बाजे, ढोल बाजे, ढोल
के ढम ढम बाजे ढोल
कि ढोली तारो ढोल बाजे, ढोल बाजे, ढोल बाजे, ढोल
तो ढम ढम बाजे ढोल
हे हे, छोरी बड़ी अनमोल, मीठे मीठे इसके बोल
आँखें इसकी गोल गोल, गोल गोल, तो ढम ढम बाजे ढोल
हाँ हाँ छोरा छोरा है नटखट, बोले है पटपट
अरे छेड़े मुझे बोले ऐसे बोल, तो ढम ढम बाजे ढोल

रसीलो ये रूप तारो छूं लूं ज़रा
अरे ना, अरे हाँ
अरे हाँ हाँ हाँ हाँ
रात की रानी जैसे रूप मेरा, महका सा, महका सा, महका सा, महका सा
उड़ेगी महक मुझे छूना ना, तू क्यों बहका सा, बहका सा, बहका सा सा सा सा सा सा सा सा
पास आजा मेरी रानी, सुनूँ नहीं मैं दिवानी
करूँगा मैं मनमानी, मत कर शैतानी
अरे रेरेरेरे, सरे रेरेरे, परेरेरेरे
कि ढोली तारो....

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...