>70 Lakh Pageviews!

ठाड़े रहियो ओ बाँके यार रे - Thaade Rahiye O Baanke Yaar Re (Lata Mangeshkar, Pakeezah)

Movie/Album: पाकीज़ा (1971)
Music By: ग़ुलाम मोहम्मद
Lyrics By: मजरूह सुल्तानपुरी
Performed By: लता मंगेशकर

चाँदनी रात बड़ी देर के बाद आई है
ये मुलाक़ात बड़ी देर के बाद आई है
आज की रात वो आए हैं बड़ी देर के बाद
आज की रात बड़ी देर के बाद आई है

ठाड़े रहियो ओ बाँके यार रे
ठाड़े रहियो, ठाड़े रहियो

ठहरो लगाईया, नैनों में कजरा
चोटी में गूँध आऊँ फूलों का गजरा
मैं तो कर आऊँ सोलह श्रृंगार रे
ठाड़े रहियो...

जागे न कोई, रैना है थोड़ी
बोले छमाछम पायल निगोड़ी
अजी धीरे से खोलूँगी द्वार रे
सैयाँ धीरे से
मैं तो चुपके से
अजी हौले से खोलूँगी द्वार रे
ठाड़े रहियो...

क्या हो फिर जो दिन - Kya Ho Phir Jo Din (Geeta Dutt, Asha Bhosle, Nau Do Gyarah)

Movie/Album: नौ दो ग्यारह (1957)
Music By: एस.डी.बर्मन
Lyrics By: मजरूह सुल्तानपुरी
Performed By: गीता दत्त, आशा भोंसले

क्या हो फिर जो दिन रंगीला हो
रेत चमके, समुन्दर नीला हो
और आकाश गीला-गीला हो
क्या हो फिर जो दिन...

आह! फिर तो बड़ा मज़ा होगा
अम्बर झुका-झुका होगा
सागर रुका-रुका होगा
तूफां छुपा-छुपा होगा

क्या हो फिर जो चंचल घाटी हो
होठों पे मचलती बातें हो
सावन हो, भरी बरसातें हो

आह! फिर तो बड़ा मज़ा होगा
कोई-कोई फिसल रहा होगा
कोई-कोई संभल रहा होगा
कोई-कोई मचल रहा होगा

क्या हो फिर जो दुनिया सोती हो
और तारों भरी खामोशी हो
हर आहट पे धड़कन होती हो

आह! फिर तो बड़ा मज़ा होगा
दिल-दिल मिला-मिला होगा
तन-मन खिला-खिला होगा
दुश्मन जला-जला होगा