तुझसे नाराज़ नहीं ज़िन्दगी - Tujhse Naraz Nahin Zindagi (Anup, Lata, Masoom)

Movie/Album: मासूम (1983)
Music By: आर.डी.बर्मन
Lyrics By: गुलज़ार
Performed By: अनूप घोषाल, लता मंगेशकर

तुझसे नाराज़ नहीं ज़िन्दगी
हैरान हूँ मैं
तेरे मासूम सवालों से
परेशान हूँ मैं

जीने के लिए सोचा ही नहीं
दर्द संभालने होंगे
मुस्कुराये तो मुस्कुराने के
क़र्ज़ उतारने होंगे
मुस्कुराऊं कभी तो लगता है
जैसे होंठों पे क़र्ज़ रखा है
तुझसे...

ज़िन्दगी तेरे गम ने हमें
रिश्ते नए समझाए
मिले जो हमें धूप में मिले
छाँव के ठण्डे साये
तुझसे...

आज अगर भर आई है
बूंदे बरस जाएगी
कल क्या पता किनके लिए
आँखें तरस जाएगी
जाने कब गुम हुआ, कहाँ खोया
इक आंसू छुपा के रखा था
तुझसे...

6 comments :

  1. Great man!! Was looking for hindi lyrics written in Hindi

    ReplyDelete
  2. Thanks. after long time got this...

    feel the song from heart after reading it in hindi :)

    ReplyDelete
  3. This song like an epic.great. Nan rushi kuruthe kavyam. Great guljar

    ReplyDelete

Like this Blog? Let us know!