एक दिन तेरी राहों में - Ek Din Teri Raahon Mein (Javed Ali, Naqaab)

Movie/Album: नकाब (2007)
Music By: प्रीतम चक्रबर्ती
Lyrics By: समीर
Performed By: जावेद अली

एक दिन, एक दिन तेरी राहों में
बाहों में, पनाहों में आऊँगा
खो जाऊँगा, एक दिन तेरा हो जाऊँगा
ये दिल तो ना कह सका ये बातें
दिल तो ना कह सका

तू जाने ना तू, चाहत मेरी कितनी बेताब है
वो जो बरसों मेरी पलकों में था, तू वही ख्वाब है
हर घड़ी, हर घड़ी तेरी यादों में
वादों में, इरादों में, आऊँगा, खो जाऊँगा
एक दिन तेरा हो जाऊँगा...

ये झुकती नज़र जान-ए-जिगर होश ले जाती है
मैं कैसे कहूँ इक अजनबी दर्द दे जाती है
चुपके से, चुपके से, तेरी नींदों में
ख्वाबों में, ख्यालों में, छाऊँगा, खो जाऊँगा
एक दिन तेरा हो जाऊँगा...

No comments :

Post a Comment

Like this Blog? Let us know!