सैय्याँ - Saiyyan (Sunidhi Chauhan, Hans Raj Hans, Nayak)

Movie/Album: नायक (2001)
Music By: ए.आर.रहमान
Lyrics By: आनंद बक्षी
Performed By: उदित नारायण, कविता कृष्णमूर्ति

ओ सैय्याँ
सैय्याँ पकड़ बैय्याँ, सैय्याँ पडूँ पैय्यां
चलो सैय्याँ, तारों की छैय्याँ
सैय्याँ, सैय्याँ सैय्याँ सैय्याँ
ओ सैय्याँ

खेल रहा हूँ मैं तलवार से, खेलूँ कैसे तेरे प्यार से
आगे पीछे भूल भुलैय्याँ, निकले कैसे तेरा सैय्याँ
सैय्याँ पकड़ बैय्याँ...

तू राजा, तू नेता, बस है नाम का
तू पीएम, तू सीएम, किस काम का
लबों पे गिले हैं, नज़र में सवाल
तेरा गोरा मुखड़ा, हुआ क्यों लाल
सबके दर्दी, ओ बेदर्दी
कैसी तेरी ये खुदगर्ज़ी
लेके आई मैं थी अर्जी
हाँ कर, ना कर, तेरी मर्ज़ी, सैय्याँ
सैय्याँ पकड़ बैय्याँ...

नहीं ये बेवफाई, नहीं मैं हरजाई
के दिन रात तेरी, मुझे याद आई
न मुझे चैन आया, न मुझे नींद आई
छन से टूट गयी मेरी अंगडाई, हाँ मेरी अंगडाई
प्यार की चुनरी, प्यार की चुनरी प्रेम की चोली
लै के नैनों की ये डोली
मैं आया हूँ, ओ हमजोली
आजा खेले आँख मिचोली
सैय्याँ पकड़ बैय्याँ...

No comments :

Post a Comment

Like this Blog? Let us know!